बैंकों को डूबोने के साथ धीरे-धीरे बेचे जा रहे सरकारी उपक्रम :राणा

सुजानपुर से कांग्रेस विधायक श्री राजेंद्र राणा जी ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी ने देश को गुलामी की जंजीरों से मुक्त करवाया था, लेकिन वर्तमान केंद्र सरकार ईस्ट इंडिया कंपनी की तरह 2-3 चहेते उद्योगपतियों के हाथों में खेल रही है तथा देश को कंपनियों के हवाले करने की साजिश रची जा रही है।जारी प्रेस विज्ञप्ति में उन्होंने कहा कि आने वाले समय देश को सरकार की बजाए चुनिंदा उद्योगपति देश को चलाएंगे।

देश की जनता के खाने-पीने से लेकर रोजमर्रा की चीजों के लिए कंपनियों के आगे हाथ फैलाने होंगे।यही उद्योगपति देश की दिशा व दशा तय करेंगे।उन्होंने कहा कि यह पहली सरकार है जोकि देश को बेचने व गुलाम करने पर आमदा है। दीवालिया हो चुके बैंकों को मर्ज कर अच्छे चल रहा बैंक भी सरकार ने डूबो दिए।आॅटो, पावर व फार्मिंग सेक्टर का बैंड बजा दिया है।रही-सही कसर सरकारी उपक्रमों को बेचकर पूरी की जा रही है।देश की माली हालत बिगाड़ दी है और बेरोजगारी का कोई तोड़ सरकार के पास नहीं है।इन सबका ठीकरा पूर्व यूपीए सरकार पर फोड़ा जा रहा है या फिर पूरी दुनिया में मंदी होने का बहाना बनाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि जिस सरकार को बहुमत देकर जनता ने भरोसा किया, वही सरकार जवाबदेही से बच रही है।उन्होंने कहा कि राज्यों को रेवड़ियों की तरह अरबो रूपए की घोषणाएं की जा रही है लेकिन बजट खुद जुटाने का फरमान भी सुनाया जा रहा है।अगर सरकार देश को संभाल नहीं सकती तो जनता से माफी मांगे और इस्तीफा दे।

जनता ने देश को डूबोने के लिए सरकार नहीं बनाई थी जोकि अब अपनी गलतियों पर पर्दा डालने व नाकामियों को छिपाने के लिए दूसरों पर दोषारोपण कर रही है।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *