वीरभद्र के समर्थक जनारथा, कांग्रेस शिमला सीट से प्रत्याशी को जिताने के लिए काम करेंगे

शिमला

पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के समर्थक माने जाने वाले हरीश जनारथा की कांग्रेस में वापसी होने से समर्थकों में खासा जोश है। हरीश जनारथा के निष्कासन को बीते रोज ही कांग्रेस ने रद्द करते हुए उन्हें पार्टी में वापिस लिया है। हरीश जनारथा ने आज अपने सैकड़ों समर्थकों सहित प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पहुंच कर वापसी के लिए कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर, पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह, आनंद शर्मा, रजनी पाटिल और राहुल गांधी का धन्यवाद किया और कहा है कि पार्टी से निष्कासित होने के बाद भी उनका दिल कांग्रेस में ही था।

उन्होंने पार्टी को भरोसा देते हुए कहा है कि लोकसभा चुनाव में किया जाएगा।वहीं कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने कहा कि हरीश जनारथा की वापसी से पार्टी को लोकसभा चुनावों में मजबूती मिलेगी। पार्टी के अध्यक्ष बनने के बाद पार्टी को मजबूत करने के लिए काम किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि हरीश जनारथा को विधानसभा चुनावों के दौरान शिमला शहरी सीट पर पार्टी प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लड़ने पर कांग्रेस से निष्कासित कर दिया था। लगभग डेढ़ वर्ष बाद लोकसभा चुनावों के मद्देनजर पार्टी को मजबूत करने की दृष्टि से हरीश जनारथा के निष्कासन को पार्टी ने रद्द किया है।इस दौरान हरीश जनारथा के साथ विधायक विक्रमादित्य सिंह और शिमला जिला कांग्रेस अध्यक्ष यशवंत छाजटा भी मौजूद रहे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *