अब कौन ज़िम्मेदारी लेगा इस महामारी को शिमला में फ़ैलने से? 

अब कौन ज़िम्मेदारी लेगा इस महामारी को शिमला में फ़ैलने से? 

 

प्रदेश में कोरोना वायरस से 21 वर्षीय की शिमला के आईजीएमसी अस्पताल में मंगलवार शाम को मौत हो गई। प्रदेश में यह दूसरी जबकि राजधानी शिमला में यह पहली मौत है। बता दे युवक का कनलोग के क्रिमिनेशन सेंटर में 11बजे विधिवत अंतिम संस्कार कर दिया गया। उसके अंतिम संस्कार में कुछ पत्रकार, SDM साहिबा, निगम के सांइटिज़ेर वर्कर, हेल्थ वर्कर जो की मृत व्यक्ति को एम्बुलेंस में लाए थे वो मौजूद थे।

एसडीएम अर्बन  नीरज चांदला स्वयं मौजूद रही लेकिन नगर निगम का कोई अता पता नहीं था। इससे एसडीएम भी  नराज दिख रही थी और उन्होने कहा भी की यहाँ तो मेयर या डिप्टी मेयर को होना चाहिए था क्यूंकि उनके प्रोटोकॉल में आता है यह। वही मेयर अपना पला झाडता नज़र आया।  बतादें SDM URBAN नीरज चांदला रात के करीब 3बजे तक वहां पर रुकी थी। उनके साथ चार्ज और वही के चौकीदार भी साथ में थे।

आपको हैरानी होंगी यह जानकर की जो चौकीदार, चार्ज, पत्रकार या SDM वहां पर थे उन सबके पास ना ही covid kit जो की पीपीई किट के नाम से जानी जाती है  ना वो  थी  और ना ही n95मास्क, फिर भी यह सब अंतिम संस्कार की अंतिम विधियां तक वहां पर मौजूद नज़र आए।

क्या यह कहना गलत होगा की यह सब कोरोना वायरस की चपेट में नहीं आए होंगे। ऐसा कहना तो मुश्किल है, परन्तु इस मुश्किल घड़ी में crazy news india की टीम  SDM साहिबा, पत्रकार  के जज्बे को सलाम करता है। और जो लोग वहां थे उनको भी अपना टेस्ट करवा लेना चाहिए क्यूंकि उनके साथ उनका परिवार भी जुड़ा है।

Crazy News India सरकार से भी गुजारिश करता है की जो भी वहाँ थे उन सबको होम क्वारेंटाइन किया जाए ताकि कोरोना वायरस शिमला में ना फ़ैल सके। यह गर्व की बात भी है जैसे हिमाचल की सरकार कोरोना से जिस प्रकार इदाई इद  रही है, उसमें कोई दौराये नहीं क्यूंकि पूरे देश में हिमाचल ही ऐसा देश है जहाँ अब तक दो एक्टिव केस है।

 

 

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *