जिला लाहौल स्पीति के काजा के तुध वेली में पौधारोपण किया गया


जिला लाहौल स्पीति के काजा के तुध वेली में पौधारोपण किया गया। की मोनेस्ट्री के समीप पोधारोपन के लिए स्थान तय किया गया था।


स्थानीय प्रशासन तुध वेली के लोगों ने मिलकर करीब 2000 पौधे रोक कर नया कीर्तिमान स्थापित किया है । स्पीति के कार्यक्षेत्र में पहली बर्फबारी के दौरान जिला प्रशासन व स्थानीय लोगों ने पहले से ही पौधारोपण करने का कार्यक्रम तय किया हुआ था। तुध वेली के 700 लोगों ने मिलकर इस पौधारोपण को अंजाम दिया। पहली बार तुध में 2000 पौधे लगाए गए हैं । इससे पहले इतना बड़ा पौधारोपण कार्यक्रम कार्यक्षेत्र में नहीं हो सका है। पौधारोपण कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करते हुए एडीएम ज्ञान सागर नेगी ने कहा आज के बदलते परिवेश में पौधारोपण की काफी अहम भूमिका है ।

अगर पर्यावरण स्वस्थ और सुदृढ़ होगा तभी मनुष्य का सर्वांगीण विकास संभव हो सकता है। हम प्रकृति का दोहन करते हैं लेकिन बावजूद इसके प्रकृति को कुछ देना चाहे तो पौधारोपण से बड़ा कुछ नहीं है। आज दुनिया में कई ऐसे देश हैं पर्यावरण के बदलते परिवेश के कारण कई चुनौतियों का सामना कर रहे हैं । लाहौल स्पीति दुर्गम जनजाति क्षेत्र होने के साथ की चुनौतियां से भरा पड़ा है । स्पीति में काफी कम तादाद में वनस्पति पाई जाती है । लेकिन फिर भी ऐसी वनस्पति हैं क्योंकि काफी महत्वपूर्ण है । एडीएम ज्ञान सागर ने कहा क्षेत्र में जहां जहां भी पौधारोपण की संभावना है । वहां पर प्रशासन स्थानीय लोगों की मदद से पौधारोपण करेगा साथ ही साथ यह भी सुनिश्चित करेगा कि जो पौधारोपण किया गया है सुरक्षित रखा जाए ।

ताकि पेड़ का रूप धारण कर सके तभी हमारा लक्ष्य पूरा हो सकता है। इसी कार्यक्रम के दौरान एसडीएम जीवन सिंह नेगी व खंड विकास अधिकारी नियॉन धैर्य शर्मा ने कहा की बर्बादी के बाद भी लोगों में इस पौधारोपण को लेकर काफी उत्साह देखा गया। कार्यक्रम में डीएफओ एक्सईएन आईपीएच सहित स्थानीय लोग मौजूद रहे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *