जनता व कर्मचारी अगर चुनाव लड़ने पर आगए तो सत्ताधारी सरकार ढूंढ कर भी नहीं मिलेगी :गौरव शर्मा

Shimla 16 March

हिमाचल प्रदेश आम आदमी पार्टी जयराम  के कर्मचारियों को पेंशन के लिए चुनाव लड़ने के बयान की कड़ी भर्तसना करती है इसे अंदाजा लगाया जा सकता है कि किस प्रकार भारतीय जनता पार्टी के नेतायों का अभिमान सर चढ़ कर बोल रहा है और सरकार पर पकड़ ना होने के कारण ऐसी अनाब शनाब बयानबाजी कर रहें है।

प्रदेश प्रवक्ता गौरव शर्मा ने कहा कि हिमाचल प्रदेश सरकारी कर्मचारी बहुल प्रदेश है व अनेकों बार इन कर्मचारी भाइयों ने सत्ता के सुख भोग रहे निष्क्रिय नेताओं को घर बिठाया है, जिसका अंदाजा शायद अभी भी सत्ता मैं बैठे नेता नहीं लगा पा रहे है या यूं कहा जाए कि कुर्सी के घमंड में चकानाचूर होकर उन्हें कुछ दिखाई नही दे रहा है। उन्होंने कहा कि अगर आम जनता व कर्मचारी भाइयों ने चुनाव लड़ने का मन बना लिया तो सत्ताधारी सरकार ढूंढ कर भी नही मिलेगी व पंजाब की तरह हिमाचल मैं भी झाड़ू चलेगा व केजरिवाल की नीतियों की जीत होगी ।

कर्मचारियों की पुरानी पेंशन बहाली की मांग का आम आदमी पार्टी पूरी तरह समर्थन करती है व आने वाले चुनावों में जब प्रदेश के सरकारी कर्मचारी भाई व प्रदेश की जनता आम आदमी पार्टी की सरकार लाएगी तो सबसे पहले उनकी OPS की मांग को पूरा किया जाएगा। गौरव शर्मा ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने भाजपा सरकार को कर्मचारियों को बेवजह तंग ना करने की नसीहत दी है और कहा है कि अगर सरकार कर्मचारियों की मांगे नही मान सकती तो उनको सत्ता में रहने का कोई हक नही है ।

आम आदमी पार्टी ने प्रदेश में चल रहे स्वर्ण समाज संगठन द्वारा किए जा रहे धरना प्रदर्शन व उनकी मांगों को पूरा ना किये जाने पर भी सरकार को दोषी ठहराया है सरकार उनकी बातों को समझने व सुलझाने में नाकामयाब रही है और अपनी नालायकी को छिपाने के लिए प्रदर्शन कर रहे लोगों पर अत्याचार कर रही है जिसका आम आदमी पार्टी पुरजोर विरोध करती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.