मौसम ने बदली करवट, हिमाचल में बारिश-बर्फबारी के पूर्वानुमान

Monsoon clouds after heavy rainfall over the Shimla on Sunday, July 07, 2013. Monsoon rains were 4 percent above average in the week that ended on July 3, data from the weather office showed on Thursday, reflecting slowdown in the torrential rains early in the season that caused fatal floods in northern India. Photo by: Amit kumar

हिमाचल प्रदेश में मौसम ने अचानक करवट बदली है। प्रदेश में तीन दिन बारिश और बर्फबारी का पूर्वानुमान है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला की ओर से जारी ताजा पूर्वानुमान के तहत राज्य के मध्यम और उच्च पर्वतीय भागों में आज बारिश-बर्फबारी की संभावना है। विभाग ने कांगड़ा, कुल्लू, लाहौल-स्पीति, मंडी, शिमला, चंबा, किन्नौर, सिरमौर और सोलन के कुछ भागों में आज बारिश-बर्फबारी का पूर्वानुमान जताया है।

इसके अलावा प्रदेश के उच्च पर्वतीय भागों में 21 और 22 फरवरी को भी बारिश-बर्फबारी की संभावना है। बाकि भागों में 22 फरवरी तक मौसम साफ रहने के आसार हैं। शिमला में मंगलवार को दोपहर बाद मौसम अचानक खराब हुआ और बूंदाबांदी शुरू हुई। वहीं रोहतांग दर्रा समेत ऊंची चोटियों पर बर्फ के फाहे गिरे हैं। कांगड़ा के कई भागों में भी बारिश दर्ज की गई है।

13050 फीट ऊंचे रोहतांग दर्रा समेत ब्यास कुंड, भृगू झील, दशोहर झील, मकरवे, शिकरवे, मनाली पीक, लद्दाखी पीक, सेवन सीस्टर पीक, पतालसू, मांगध कोट, हनुमान टिब्बा, देउ टिब्बा, हामटा पास, मनाली पास, शलीण धार, शिरघन तुंग, चंद्रखणी पास, शेतीधार सहित पीर पंजाल और धौलाधार की पर्वत श्रृखलांओं में हल्का हिमपात हुआ। तापमान माइनस में होने से ब्यास कुंड, दशोहर और भृगू झीलें जमी हुई हैं।

वहीं शिमला का न्यूनतम तापमान 6.6, सुंदरनगर 4.1, भुंतर 4.1, कल्पा माननस 1.5, धर्मशाला 7.0, ऊना 7.2, नाहन 12.5, केलांग माइनस 6.0, पालमपुर 6.5, सोलन 4.8,  मंडी 4.1, कांगड़ा 8.6, मनाली 1.8, बिलासपुर 9.0, हमीरपुर 8.6, चंबा 5.5, डलहौली 5.9 और कुफरी 5.1 में डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *