मुख्य सेचतक नरेंद्र बरागटा ने आज उतराखंड हिमाचल सीमा पर कुडडू बैरियर का औचक निरीक्षण किया

नेपाल से आने वाले अधिकांश मजदूर भी इसी मार्ग से होते हुए हिमाचल में प्रवेश करते है। जिस कारण मौके पर ही बैरियर से आने जाने वाली टैक्सियों व बसों की आवाजाही को रोकने का निर्णय लिया गया है। इस दौरान नरेन्द्र बरागटा ने जुब्बल अस्पताल व सरस्वतीनगर अस्पताल की भी औचक निरीक्षण भी किया।


मुख्य सचेतक नरेंद्र बरागटा ने बताया कि जुुब्बल उतराखंड की सीमा के साथ लगता है। कुडडू बैरियर से दर्जनों टैक्सियां हिमाचल व उतराखंड में आती जाती है। नेपाल से आने वाले मजदूर भी कुडडू बैरियर होते हुए ही हिमाचल में आते हैं। ऐसे में बैरियर से टैक्सियों व बसों के आने जाने पर रोक लगा दी गई है। उतराखंड से हिमाचल की ओर न तो कोई भी टैक्सी व बस सेवा चलाई जाएगी। न ही वहां से आने दी जाएगी। बैरियर पर अतिरिक्त पुलिस के जवान तैनात कर दिए गए हैं। साथ ही कुडडू बैैरियर पर स्वास्थ्य विभाग की टीम लोगों की जांच के लिए तैनात है। आने जाने वाले लोगों के बुखार को जांचने के लिए तैनात स्वास्थ्य क​र्मियों को इंफरारेड थरमामीटर दी जाएंगे। उन्होंने बताया कि सरस्वतीनगर व जुब्बल अस्पताल में भी मौके पर निरीक्षण किया गया है।

दोनों अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं। उन्होंने लोगों से अपील की है कि आवश्यकता पड़ने पर ही बाजार जाए। सरकार व प्रशासन द्वारा दिए जा रहे दिशा निर्देशों का पालन करे तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित 22 मार्च को जनता कर्फयू का भी पालन करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.