भाजपा सरकार हर मोर्चे पर विफल -मुसाफिर

आगामी विस चुनाव में प्रदेश  बनेगी कांग्रेस की सरकार
राजगढ़ ़ 09 जनवरी । और  भाजपा सरकार  लोगों को विकास व सुशासन प्रदान करने में हर मोर्चे पर विफल हो गई है जिसके चलते प्रदेश की भाजपा सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो गई है । यह बात पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एवं पीसीसी के उपाध्यक्ष जीआर मुसाफिर ने रविवार को शरगांव में आयोजित पच्छाद कांग्रेस की बैठक में उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए व्यक्त की ।
मुसाफिर ने कहा कि हाल ही में हिमाचल प्रदेश के प्रवास पर आए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जाते हुए झुनझुना थमा गए । बेहतर होता कि कर्जों में डूबी प्रदेश सरकार को विशेष पैकेज की घोषणा करते । कहा कि भाजपा सरकार लोगों को हसीन सपने दिखाने में कोई कसर नहीं छोड़ती परंतु धरातल पर कोई विकास नहीं दिखाई दे रहा है । जिसका जवाब उप चुनाव के दौरान दे दिया है । मुसाफिर ने कहा कि सीएम जयराम ठाकुर हमेशा डबल ईंजन की बात करते हैं परंतु केंद्र की भाजपा सरकार ने विशेष  पैकेज के नाम पर राज्य को फूटी कौड़ी भी नहीं दी । यहां तक जो जीएसटी मेें राज्य का शेयर बनता है उसे भी पूरा नहीं दे रही है । बताया कि देश व प्रदेश में मंहगाई व बेरोजगारी चरम सीमा पर है और  प्रदेश सरकार ने चार साल के पूर्ण होने पर करोड़ों रूपये जश्न मनाने पर खर्च कर दिए ।
इस मौके पर मंडल अध्यक्ष बेलीराम शर्मा, संजीव शर्मा, प्रदीप कंवर, विद्यानंद सरैक, परीक्षा चैहान, दिनेश आर्य , राजकुमार, जीवन सिंह वर्मा, जगमोहन मेहता हरिदास बनोलटा सहित अनेक कांग्रेस पदाधिकारियों ने अपने संबोधन मंे भाजपा सरकार को मंहगाई और बेरोजगारी के मुददे पर जमकर कोसा । इनका कहना है कि आगामी विधानसभा चुनाव में प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनेगी और भाजपा का रिपीट मिशन डीलीट में परिवर्तित हो जाएगा । लोगों ने उपचुनाव में भाजपा सरकार को आईना दिखा दिया है और लोग भाजपा की कथनी और करनी से वाकिफ हो चुके हैं ।
इस मौके पर प्रदीप कंवर के सौजन्य से महेन्द्र सिंह , धनवीर सिंह , राजेन्द्र सिंह, चतर सिंह कंवर, पृथ्वीराज ठाकंुर, अमर सिंह ,संतराम कश्यप, बाबूराम अपने परिवार व सैंकड़ों समर्थकों सहित भाजपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए । जीआर मुसाफिर और मंडल अध्यक्ष ने कांग्रेस परिवार में आने के लिए सभी सदस्यों को माला पहनाकर सम्मान किया गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.