शिमला का अपहरण स्थल, जानिए ऐसा क्यों कहा गया इस स्थल को

शिमला का अपहरण स्थल जो की माल रोड की सबसे ऊँची जगह पर स्थित है. इस अपरहण स्थल को स्कैंडल पॉइंट के नाम से जाना जाता है.इस स्थल का नाम स्कैंडल प्वाइंट इसलिए रखा गया है क्योंकि कहा जाता है कि यहां से पटियाला के राजा भूपिंदर सिंह ने ब्रिटिश वायसराय, लॉर्ड किचनर की बेटी पर मुग्ध होकर उसका अपहरण कर लिया था.

स्कैंडल प्वाइंट की कहानी 

स्कैंडल प्वाइंट को लेकर एक अन्य कहानी बताई जाती है जो यह है कि लॉर्ड किचनर के पटियाला के महाराजा भूपिंदर सिंह के साथ अच्छे संबध थे और राजा अक्सर वायसराय के निवास पर जाते थे। वहां वे वायसराय की बेटी से मिले और उन्हें तभी उससे प्यार हो गया। राजा और वाइसराय की बेटी एक दूसरे को अच्छी तरह से जानते थे। फिर दोनों एक दूसरे से बहुत ज्यादा मिलने लगे थे और दोनों के बीच प्यार शुरू हो गया था। वायसराय को इस बात का पता चल गया और उसकी काफी बदनामी हुई। दोनों शादी करना चाहते थे लेकिन वायसराय यह मंजूर नहीं था। उसने अपनी बेटी को राजा से मिलने के लिए मना कर दिया।

लेकिन दोनों प्रेमी एक दूसरे से अलग नहीं रह पाए और उन्होंने भागने का फैसला लिया। दोनों उस जगह पर मिले जहाँ पर अब स्कैंडल प्वाइंट है और 1892 में एक साथ भाग गए। यह जगह वर्षों तक चर्चा में रही। इसके बाद क्रोधित किचनर ने कसम खाई कि वह राजा के जीवन को बर्बाद कर देगा और उसको शिमला से निकाल दिया। महाराजा भूपिंदर सिंह को अपने प्यार पर भरोसा था और उन्होंने शिमला से 50 मील दूर चैल में अपनी ग्रीष्मकालीन राजधानी का निर्माण किया

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *