स्वास्थ्य एवम् परिवार कल्याण मन्त्री द्वारा हिमाचल प्रदेश सचिवालय से वाहन जीवनधारा (श्रवण) को हरी झण्डी दिखाई गई

04-08-2022

 

स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि आज दिनांक 04 अगस्त, 2022 को 12:00 पूर्वाह्न,  स्वास्थ्य एवम् परिवार कल्याण मन्त्री डॉ० राजीव सैज़ल जी द्वारा हिमाचल प्रदेश सचिवालय से विशेष वाहन जीवनधारा (श्रवण) को हरी झण्डी दिखा कर जनकल्याण हेतु समर्पित किया गया | स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि आज वृद्धाश्रम बसंतपुर सुन्नी में स्वास्थ्य विभाग द्वारा नई ऑडिओमेट्रिक वैन द्वारा 47 वर्धक लाभार्थियों/ रिहायशी लाभार्थियों की श्रवण शक्ति की जांच की गई | इसके अंतर्गत 47 लाभार्थियों को श्रवण शक्ति जांच, नेत्र रोग जांच, नेत्र जांच, रक्तचाप, मधुमेह जांच व सभी खून जांच सुविधा उपलब्ध करवाई गई।

राष्ट्रीय बहरेपन रोकथाम कार्यक्रम के अंतर्गत स्वास्थ्य संस्थानों में कान की आम बीमारियों के निदान व ईलाज की मुफ़्त सुविधा प्रदान की जाती है और जटिल रोगों के ईलाज के लिए मरीज़ों को उपयुक्त स्वास्थ्य संस्थानों में रेफ़र किया जाता है | वर्ष 2021-22 में कुल 1221 लोगों में बहरेपन की समस्या पाई और उनमें से 131 लोगों के ऑपरेशन किये गए हैं | राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत 0 – 18 वर्ष आयु के बच्चों की वार्षिक जाँच का प्रावधान है | वर्ष 2021-22 में जाँच किये गए 1706 बच्चों में से 10 बच्चों में बहरापन पाया गया है | इस के अतिरिक्त मुख्यमन्त्री निरोग योजना के अंतर्गत 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों के कानों की वार्षिक जाँच का भी प्रावधान है | इसके अनुसार पिछले तीन वर्षों में 25.45 लाख लोगों में से 4 प्रतिशत लोगों में कान की समस्या पाई गई |

स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता ने आगे बताया कि उपरोक्त विशेष वाहन जीवनधारा (श्रवण) को प्रदेश के विभिन्न स्वास्थ्य खण्डों व अस्पतालों में भेजा जायेगा, जहाँ खण्ड चिकित्सा अधिकारी उन सभी लाभार्थियों को इकठ्ठा करेंगे जिन्हें सुनने में कोई भी समस्या पाई गई हो | इस वाहन में लगे उपकरण उन मरीज़ों की जाँच करेंगे और उन्हें हियरिंग एड ऑपरेशन और ईलाज के लिए उपयुक्त संस्थान में भेजा जायेगा और बुज़ुर्गों में सुनने की मशीन व बच्चों में ऑपरेशन और कोक्लियर इम्प्लान्ट लगाने में भी सहायता मिलेगी | इस वाहन में 2 तकनीशियन, एक डाटा एंट्री ऑपरेटर व एक ड्राईवर होगा | जिस अस्पताल में यह वाहन जायेगा वहाँ की पूरी टीम बहरेपन की जाँच में सहयोग करेगी | यह वाहन प्रदेश में बहरेपन की जाँच व उपचार के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होगा |

Leave a Reply

Your email address will not be published.